महाराजा अग्रसेन कॉलेज में वार्षिकोत्सव का आयोजन

Updated: Aug 5


नई दिल्ली : महाराजा अग्रसेन कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय में 5 मई 2022 को कॉलेज का वार्षिकोत्सव मनाया गया। इस उपलक्ष्य पर मुख्य अतिथि के रूप में हरियाणा और पंजाब हाई कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश जस्टिस विजेंद्र जैन (सेवानिवृत्त) व विशिष्ट अतिथि प्रतीक त्रिवेदी मौजूद रहे। इस अवसर पर अकादमिक, स्पोर्ट्स और सांस्कृतिक उपलब्धियों के लिए 170 से ज्यादा विद्यार्थियों को पुरष्कृत किया गया। सर्वश्रेष्ठ विद्यार्थी का पुरस्कार अंग्रेजी विभाग की छात्रा अदिति श्रीवास्तव, अवार्ड ऑफ एक्सीलेंस व सवर्श्रेष्ठ समायोजक अवार्ड ऐबी थौम सुनील तथा संस्कृति अवार्ड अक्षित को दिया गया।

समारोह के मुख्य अतिथि जस्टिस विजेंद्र जैन ने सभागार में मौजूद सभी छात्रों और अतिथियों को संबोधित करते हुए कहा कि “वार्षिकोत्सव एक खास अवसर है, यह दिन आशाओं और प्रत्याशाओं को जोड़कर आगे बढ़ने का दिन होता है।" उन्होंने आगे कहा कि " शिक्षा केवल किताबों के माध्यम से प्राप्त नहीं की जा सकती, शैक्षणिक संस्थानों का वास्तविक उद्देश्य जीवन के प्रति व्यवहारिक दृष्टिकोण पैदा करना होता है। इसके पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना एवं दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुई। इस अवसर पर गवर्निंग बॉडी के चेयरमैन अतुल कुमार जैन ने पुरस्कार प्राप्त करने वाले सभी छात्रों को बधाई देते हुए उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि “ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल जी व उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री श्री मनीष सिसोदिया जी दिल्ली में शिक्षा के स्तर को मज़बूत करने तथा शैक्षणिक संस्थानों में आधारभूत संरचना को स्थापित करने के लिए कृत संकल्पित हैं व उस दिशा में लगातार प्रयास कर रहे हैं।

कॉलेज की प्रिंसिपल प्रोफेसर संजीव कुमार तिवारी ने इस अवसर पर वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि "महाराजा अग्रसेन कॉलेज का शुभारंभ सन् 1994 में मात्र 2 कोर्सेज और 310 बच्चों के साथ हुआ था, आज हमारे महाविद्यालय में 2700 से ज्यादा छात्र मौजूद हैं और 10 से ज्यादा कोर्सेज पढ़ाए जाते हैं। महाराजा अग्रसेन कॉलेज साल 2021 में एनआईआरऍफ़ रैंकिंग में 52वां स्थान प्राप्त किया। कॉलेज में फेल होने वाले बच्चों की संख्या शून्य है, जबकि फाइनल ईयर में परीक्षा लिखने वाले कुल छात्रों में से 95 फ़ीसदी से ज्यादा छात्र 6 सीजीपीए से ज्यादा अंक लेकर पास हुए हैं। उन्होंने कॉलेज की खेल और सांस्कृतिक क्षेत्र की उपलब्धियों का जिक्र किया। उन्होंने बताया कि कॉलेज के विद्यार्थियों ने राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली खेल प्रतिस्पर्धाओं में भाग लिया और बेहतर प्रदर्शन किया।

समारोह के विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पत्रकार प्रतीक त्रिवेदी ने कहा कि पत्रकारिता में मेरा अनुभव 25 साल से ज्यादा का है, इस दौरान मैंने बहुत सी बातें सीखी हैं बहुत से नए अनुभव किए हैं लेकिन मैं आपको जीवन का मात्र एक मूल मंत्र बताना चाहूंगा और वह यह है कि परिश्रम से कभी मन मत चुराए, परिश्रम से मन चुराने का मतलब है सफलता से चूक जाना।"

इस अवसर पर कालेज की वार्षिक पत्रिका अग्रनिका का विमोचन किया गया।

इस अवसर पर कॉलेज की गवर्निंग बॉडी के कोषाध्यक्ष श्री सौरव मिश्रा, शिक्षक एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारी सहित विद्यार्थियों की उपस्थिति रही। कार्यक्रम का सञ्चालन डॉ इन्द्राणी दासगुप्ता ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन प्रोफेसर (डॉ) दीपा शर्मा ने किया।


Also Read



Click to read more articles


HOME PAGE


Do you want to publish article, News, Poem, Opinion, etc.


Contact us

nationenlighten@gmail.com | nenlighten@gmail.com

1,089 views0 comments